लेटेस्ट :

शिक्षाकर्मियों का संविलियन न पहले था, न अब होगा : रमन सिंह

शिक्षाकर्मियों का संविलियन न पहले था, न अब होगा : रमन सिंह

शिक्षाकर्मियों का संविलियन न पहले था, न अब होगा : रमन सिंह

रायपुर : शिक्षाकर्मियो को लगातार मिल रहे अल्टीमेटम के बाद भी शिक्षाकर्मी अपनी मानगो को लेकर अड़े हुए है. इसी बिच गुजरात दौरे से लौटते ही मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने एक बड़ा बयान जिसमे उन्होंने दो टूक कहा की शिक्षा कर्मियों को संविलियन न पहले था और न अब होगा. 

आपको ज्ञात हो की शिक्षाकर्मी संविलियन की मांग को लेकर लगातार हड़ताल पर है. शिशाकर्मियो ने ये साफएलान कर दिया है की जब तक उनकी संविलियन की बात को नहीं  मन जायेगा तब तक वे अपनी हड़ताल ख़तम नहीं करेंगे.

आज शाम तक का मोहलत

सरकार ने शिक्षाकर्मियो को आज शाम 4 बजे तक का मोहलत दिया है अगर वे अपनी हड़ताल वापस नहीं लेते है तो उन पर कार्यवाही की जाएगी.

आपको बता दे की कल रायपुर जिले के 5 शिक्षाकर्मियो को बर्खास्तगी का लेटर थमा दिया गया था. इसी बर्खास्तगी लेटर की प्रतिया जलाकर कर शिक्षाकर्मियो ने प्रदर्शन किया था. अब रायपुर के बाद अन्य जिलो में इसी तरह की कार्यवाही हो सकती है.

केबिनेट की बैठक 

28 नवम्बर को छत्तीसगढ़ केबिनेट मंत्रियो की बैठक है. कहा जा रहा है की इस बैठक में शिक्षाकर्मियो  के हड़ताल को लेकर भी बाते हो सकती है अगर इस बैठक में कोई शिक्षाकर्मियो की हड़ताल को लेकर कोई फैसला नहीं होता है. तो शिक्षाकर्मी जो अब तक जिला और ब्लाक स्तर पर हड़ताल कर रहे थे वो अब रायपुर पहुच कर हड़ताल को आगे बड़ा सकते है.

पंडाल होने लगा खली 

रायपुर में हुए 5 शिक्षाकर्मियो की बर्खास्तगी की कार्यवाही का असर अब हड़ताल के पंडाल पर देखने को मिल रहा है. जन्हा 2 दिन से पंडालो में शिक्षको की संख्या कम लगी है.

छत्तीसगढ़ और देश से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए खबर छत्तीसगढ़  के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

rupendrasahu1616

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account