लेटेस्ट :

शिक्षाकर्मियों की बर्खास्तगी शुरू, शिक्षाकर्मियों को शपथ पत्र पड़ गया महंगा

शिक्षाकर्मियों की बर्खास्तगी शुरू, शिक्षाकर्मियों को शपथ पत्र पड़ गया महंगा

शिक्षाकर्मियों की बर्खास्तगी शुरू, शिक्षाकर्मियों को शपथ पत्र पड़ गया महंगा

रायपुर : आखिरकर सरकर को शिक्षाकर्मियों का हड़ताल ख़त्म करने का हथियार मिल ही गया. और यह हथियार बना शिक्षाकर्मियों का पिछले हड़ताल में दिया गया शपथ पत्र है. जिसमे ये कहा गया था की अगर हम फिर से हड़ताल पर जाते है तो सरकार के पास बर्खास्त करने का अधिकार होगा .इसकी कार्यवाही शनिवार शाम देखने को मिली जब रायपुर जिला पंचायत के सिईओ निलेश क्षीरसागर ने 5 प्रोबेशनरी शिक्षाकर्मी को बर्खास्तगी का आर्डर लेटर थमा दिया,

इन शिक्षाकर्मियो की बर्खास्तगी 

अभनपुर से सहायक शिक्षक जीतेन्द्र कुमार सिंह, धरसीवा से शिक्षाकर्मी पवन सिंह ठाकुर, धरसीवा से ही व्याख्याता गुरजीत सिंह, तिल्दा से व्याख्याता पंचायत संदीप नागपुर और आरंग से शिक्षाकर्मी हरीश दीवान. 

इसके आलावा 200 से भी ज्यादा शिक्षाकर्मियो को नोटिस पत्र थमा दिया गया है तथा उन्हें सोमवार दोपहर तक का समय दिया है.

हड़ताल तोड़ने के लिए ये है सरकार की रणनीति  

१. ट्रांसफर तथा ट्रांसफर रद्द :

अल्टीमेटम देने के पश्चात् भी जो शिक्षाकर्मी स्कुल वापस नही लौटेंगे उनका ट्रांसफर सूदूर इलाको में करने की तैयारी  है. तथा हालही ही में जिन शिक्षाकर्मियो का ट्रांसफर मंजूर कर लिया गया था उन्हें रद्द करने की तैयरी है.

२. प्रमोशन भी रद्द :

जिन शिक्षाकर्मियो का ट्रांसफर रद्द होगा उनका प्रमोशन भी रद्द हो जायेगा क्योकि इनका ट्रांसफर और प्रमोशन जुड़े होते है. तथा भविष्य में कभी भी अपना ट्रांसफर नहीं करा पाएंगे.

३. एक ही जिले में पदस्त दम्पति का ट्रांसफर रद्द :

ऐसे दम्पत्ति जो एक ही जिले में शिक्षाकर्मी के तौर पर पदस्त है उनका ट्रांसफर भी रद्द करने की तैयारी में है. फ़िलहाल ऐसे दम्पति की लिस्ट निकाली जा रही है. अगर एक बार शिक्षाकर्मियो का ट्रांसफर कैंसिल हुआ तो वे कभी भी ट्रांसफर के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे. सरकार की तरफ से ऐसा लिखित में दिया जायेगा.

छत्तीसगढ़ और देश से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए खबर छत्तीसगढ़  के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

rupendrasahu1616

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account