लेटेस्ट :

अब उग्र हो सकता है शिक्षाकर्मियो की हड़ताल, 75 से ज्यादा बर्खास्त

अब उग्र हो सकता है शिक्षाकर्मियो की हड़ताल, 75 से ज्यादा बर्खास्त

अब उग्र हो सकता है शिक्षाकर्मियो की हड़ताल, 75 से ज्यादा बर्खास्त

 

शिक्षाकर्मियो की हड़ताल आज 11 दिन भी जारी राही. सरकार के तरफ से जारी अल्टीमेटम का कोई असर दीखता नजर नहीं आरहा है. जन्हा सरकार ने संविलियन से साफ़ साफ़ इंकार कर दिया है वन्ही शिक्षा कर्मी भी अपनी मानगो को लेकर अटल होकर धरने पर बैठे है. हलाकि सरकार ने कुछ शिक्षाकर्मियो को बर्खास्तगी लेटर थामकर हड़ताल को बंद कराने की कोसिस की लेकिन यही बर्खास्तगी सरकार के लिए उल्टा साबित हो सकता है. रायपुर जिले में हुए 5 शिक्षाकर्मियो की बर्खास्तगी के बाद धरना स्थलों में थोड़ी भीड़ कम हुयी जरुर थी लेकिन अब फिर से हड़ताल उग्र हो सकता है. ऐसी आशंका जताई जा रही है.

यंहा हुए इतने बर्खास्त

बालोद जिला – 31 शिक्षाकर्मी बर्खास्त

जगदलपुर – 14 बर्खास्त तथा 500 शिक्षको को नोटिस

कांकेर – 35 बर्खास्त 5 का प्रमोशन रुका

इसी प्रकार रायपुर में 6 दुर्ग में 2 बेमेतरा में 4 शिक्षाकर्मियो पर बर्खास्तगी का गाज गिरा है वन्ही ऐसे सैकंडो सिक्षकर्मी हो सकते है जिनका तब्दला रोक दिया गया हो या रद्द कर दिया गया हो.

इस वजह से जोश में आ सकते है शिक्षाकर्मी

शिक्षाकर्मियो ने सरकार पर ये आरोप लगाया है की सरकार की तरफ से कीगई कार्यवाही के कारण बिलासपुर के एक शिक्षक भागवत प्रसाद भैना की मौत हो गयी. शिक्षाकर्मियो ने मृतक के परिवार वालो को 10 लाख मुआवजा देने की सरकार से मांग की है तथा अनुकम्पा के तहत परिवार के किसी सदस्य को नौकरी दी जाये ये भी कहा गया है.

अब आगे क्या होगा

शिक्षाकर्मियो ने आन्दोलन को तेज करने के लिए ये फैसल किया है की अब सभी ब्लाक में शिक्षक क्रमिक भूख हड़ताल पर बैठेंगे. तथा 2 दिसम्बर को प्रदेश भर के 1 लाख 80 हजार शिक्षाकर्मी अपने पुरे परिवार के साथ राजधनी रायपुर में संविलयन रैली में सामिल होंगे. 

छत्तीसगढ़ और देश से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए खबर छत्तीसगढ़  के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें

 

 

rupendrasahu1616

Related Posts

leave a comment

Create Account



Log In Your Account